उत्तराखंड के लिए गौरव का पल, पूर्व CM खण्डूड़ी के दामाद राजेश भूषण को केंद्र में बड़ी ज़िमेदारी

If you like the post, Please share the link

उत्तराखंड के लिए गौरव का पल, पूर्व CM खण्डूड़ी के दामाद राजेश भूषण को केंद्र में बड़ी ज़िमेदारी

दिल्ली । भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी राजेश भूषण को शुक्रवार को स्वास्थ्य सचिव नियुक्त किए जाने के आदेश जारी हुए है। केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय के आदेश में यह जानकारी दी गयी। वह प्रीति सूदन की जगह जिम्मेदारी संभालेंगे, जिनके कार्यकाल में अप्रैल को तीन माह की वृद्धि की गयी और वह 31 जुलाई को सेवानिवृत्त हो रही हैं। बिहार काडर के 1987 बैच के आईएएस अधिकारी भूषण स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय में विशेष कार्य अधिकारी हैं। उन्हें इस साल अप्रैल में ओएसडी नियुक्त किया गया था। कोरोना वायरस महामारी से निपटने में स्वास्थ्य मंत्रालय अग्रिम भूमिका निभा रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव नियुक्त किए गए राजेश भूषण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनिंदा खास अधिकारियों में एक माने जाते हैं । यही वजह है कि उन्हें कोरोना वायरस महामारी के दौर में सबसे महत्वपूर्ण विभाग के सचिव पद की जिम्मेदारी सौंपी गई है । 1987 बैच के बिहार काडर के आईएएस अधिकारी राजेश भूषण इससे पहले केंद्र में कहीं महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों का बेहतर तरीके से निर्वहन कर चुके हैं प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के सीईओ पद की भी वह जिम्मेदारी निभा चुके हैं। वहीं केंद्रीय कैबिनेट सचिवालय में एडिशनल सेकेट्री की जिम्मेदारी भी निभा चुके है,जबकि भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय के सचिव पद की भी जिम्मेदारी संभाल चुके है। 

आपको बता दें कि भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के नए स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री, केंद्र में मंत्री और गढ़वाल लोकसभा सीट से सांसद रह चुके बीसी खंडूरी के दामाद है। जबकि यमकेश्वर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक और उत्तराखंड भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष ऋतु खंडूरी के पति हैं।

भारत सरकार के स्वास्थ्य विभाग के नए स्वास्थ्य सचिव राजीव भूषण उत्तराखंड के ही रहने वाले हैं। चमोली जिले के कर्णप्रयाग के नजदीक खाल गांव उनका पैतृक गांव है। वही उनकी बहन इंदु पुरोहित कुछ समय पहले ही शिक्षा विभाग से सेवानिवृत्त हुए जबकि उनके बहनोई डॉ केडी पुरोहित भी कुछ समय पहले एचएनबी केंद्रीय विश्वविद्यालय से परीक्षा नियंत्रक के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं ।


If you like the post, Please share the link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed