खबर इंडियाहिमाचल प्रदेश

इस नाम से इंटरनेट पर चल रही थी हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट साइट

व्हाट्सऐप पर भेजते थे युवतियों की तस्वीरें

इस नाम से इंटरनेट पर चल रही थी हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट साइट

व्हाट्सऐप पर भेजते थे युवतियों की तस्वीरें

पुलिस ने चली ऐसी चाल कि बच नहीं पाये शातिर दलाल

शिमला। हुस्न का कारोबार करने वाले इस कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए नए-नए तरीके अपना रहे हैं। तरीके भी ऐसे की आप सोचने को मजबूर हो जायें? बड़ी-बड़ी कंपनियों की तरह विज्ञापन दे रहें है कि घर बैठे सर्बिस पायें। इन सब बातों का खुलासा तब हुआ जब पुलिस ने इस पूरे हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट के राज से पर्दा उठाया। पुलिस के मुताबिक सूचना मिली थी कि इंटरनेट पर शिमला एस्कॉर्ट सर्विस के नाम से ऑनलाइन साइट चल रही है और उसमें शिमला के किसी भी हिस्से में एस्कॉर्ट सर्विस देने का दावा किया जा रहा है। उसमें दलाल का नंबर भी दे रखा है जो काल गर्ल्स मुहैया करवाता है। पुलिस को यह भी बताया गया कि यह दलाल हिमाचल का कोई भी नंबर नहीं उठाता। डीएसपी सिटी दिनेश शर्मा ने दिल्ली से एक मोबाइल सिम मंगवाया। एक ऐसे व्यक्ति को ढूंढा गया, जिसके बोलने का तरीका बाहरी लगे।

DEMO PIC
DEMO PIC

शिमला एस्कॉर्ट सर्विस के नाम से चल रही थी ऑनलाइन साइट
पुलिस ने जिस व्यक्ति को नकली ग्राहक बनाया गया, उसे मराठी भाषा का ज्ञान था। इंटरनेट पर दिए गए मोबाइल नंबर पर इसी व्यक्ति ने ग्राहक बनकर बात की। उसने कहा कि वह महाराष्ट्र से शिमला घूमने आया है और मशोबरा के पास एक होटल में ठहरा हुआ है। यह फोन भी उक्त होटल के पास से किया गया ताकि अगर आरोपी मोबाइल लोकेशन ट्रेस करे तो उसे विश्वास हो जाए कि ग्राहक असली है। विश्वास होने के बाद दलाल ने ग्राहक से कहा कि एक रात के 25 हजार लगेंगे और लड़की वह होटल तक पहुंचा कर देंगे और सुबह उसे ले भी जाएंगे।

DEMO PIC
DEMO PIC

एक रात के 25 हजार में सौदा तय
नकली ग्राहक के हामी भरने के बाद दलाल ने टोकन मनी के तौर पर दो हजार रुपये खाते में ऑनलाइन ट्रांसफर करने के लिए कहा। पैसा ट्रांसफर होने के बाद दलाल ने कहा कि जब वह लड़की को उसके हवाले करेंगे तो पूरी रकम एडवांस में चाहिए। हामी भरने के बाद आरोपी ने कहा कि कुछ घंटों में लड़की आप को पहुंच जाऐगी और होटल के नजदीक पहुंचने पर मोबाइल पर कॉल करेंगे। सुबह करीब चार बजे आरोपी मशोबरा में चंडीगढ़ नंबर की एक लग्जरी कार में पहुंचे। उन्होंने ग्राहक को कॉल कर बुलाया और जैसे ही नकली ग्राहक ने दलाल को पैसे दिए। वहां छिपी पुलिस ने उन्हें धर दबोचा।

चंडीगढ़ से ही लेकर आते हैं लड़कियां
दलालों ने बताया कि यह पहली बार नहीं आए इससे पहले भी यह शिमला और उसके आस पास के कई बड़े और नामचीन होटलों में सर्विस दे चुके हैं और वह लड़कियां चंडीगढ़ से ही लेकर आते हैं। दलालों के पास कितनी लड़कियां काम कर रही है इस दिशा में अभी पुलिस काम कर रही है।

पुलिस की चाल में फंस गए दलाल
शिमला के मशोबरा में हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ पुलिस ने किया है। डीएसपी सिटी दिनेश शर्मा ने कहा कि मुखबिर की सूचना के आधार पर यह रेक्ट पकड़ा गया है। यह चंडीगढ़ से ही नेटवर्क चलाते हैं और शिमला एस्कोर्ट सर्विस के नाम से साइट चला रहे हैं जिसमें यह बाहरी नंबर ही उठाते हैं। एक महिला समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर आगामी छानबीन अमल में लाई जा रही है। एक महिला समेत दो दलालों को गिरफ्तार किया गया है। सभी पंजाब के रहने वाले हैं। जिस युवती को यह दलाल ग्राहक के पास भेजने वाले थे, उस युवती को नारी निकेतन मशोबरा भेजा गया है। यह चंडीगढ़ की रहने वाली है। इनके कब्जे से छह मोबाइल, पैसे और भारी मात्रा में आपत्तिजनक सामान बरामद किया गया है। लग्जरी कार को भी पुलिस ने कब्जे में ले लिया है।

व्हाट्सऐप पर भेजते हैं युवतियों की तस्वीरें
अब तक की पूछताछ में सामने आया है कि आरोपी कई शहरों में एस्कॉर्ट सर्विस चला रहे हैं और उसमें मोबाइल नंबर दे रखे हैं। दलाल एक रात के 20 से 30 हजार वसूल करते हैं और व्हाट्सऐप के जरिये ही युवतियों की तस्वीरें ग्राहक को भेजते हैं।

एक कॉल गर्ल को हफ्ते का 40 हजार
पूछताछ में बताया गया कि दलाल काल गर्ल को एक हफ्ते में 40 हजार नकद भुगतान करता है। दलाल ग्राहक से एक रात का 20 से 35 हजार तक वसूल करता है। लड़की को होटल तक पहुंचाना लाना ले जाना और सुरक्षा की पूरी गारंटी दलाल ही देते हैं।

मैं कॉल गर्ल नहीं, दलाल की गर्लफ्रेंड हूं
गिरफ्तार हुई महिला तलाकशुदा है। उसने पुलिस को मौखिक तौर पर बताया कि वह काल गर्ल नहीं है। वह एस्कॉर्ट सर्विस चलाने वाले आरोपी की गर्लफ्रेंड है। उसने बताया कि वह काफी समय से उसके साथ रिलेशनशिप में है। वह पहली बार आरोपी के साथ शिमला आई।

मां जेल में है, जमानत के लिए चाहिए पैसा
तीन आरोपियों के साथ चंडीगढ़ से आई युवती ने शुरूआती पूछताछ में बताया कि उसकी मां एक केस के सिलसिले में पंजाब की एक जेल में बंद है। उसे मां को जेल से छुड़ाना है। वकील की भारी भरकम फीस देनी है। इसलिए मजबूरी में यहां आई।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close