खबर इंडियापंजाब

किस्मत हो तो इस मजदूर के जैसी, जो रातोंरात बन गया करोड़पति

उधार के पैंसो से खरीदी लाटरी और हो गया मालामाल

किस्मत हो तो इस मजदूर के जैसी, जो रातोंरात बन गया करोड़पति

उधार के पैंसो से खरीदी लाटरी और हो गया मालामाल

चंडीगढ़। अगर आप भी किस्मत पर भरोसा करते हैं तो यह खबर खास तौर से आपके लिए है। खबर का हेडिंग पढ़कर आपको यकीन नहीं हो रहा होगा पर यह बिल्कुल सच है। रातोंरात करोड़पति बनने के किस्से कहानियां आपने भी सुने होंगी, लेकिन यह सच हुआ है पंजाब के संगरूर जिले में रहने वाले एक युवक के साथ। पंजाब के संगरूर जिले में एक शख्स रातोंरात करोड़पति बन गया वह भी उधार के पैसो में। दरअसल, मनोज कुमार नाम के एक शख्स ने उधार के पैसों मे लाटरी खरीदी थी। जो लग गई और वह करोड़पति बन गए।

मनोज को लग रहा है कहीं यह सपना तो नहीं
मजदूरी का काम करने वाले मनोज के पास लाटरी खरीदने के भी 200 रुपए भी नहीं थे। उन्होने उधार पैसे लेकर लाटरी खरीदी। किस्मत के इस खेल ने उनका साथ दिया और मनोज ने 1.5 करोड़ रुपये जीते हैं। मनोज कुमार ने बताया कि वह मजदूरी कर परिवार का पालन पोषण करता है। उसकी चार बेटियां और एक बेटा है। पिछले महीने उसने गांव के डाकघर से पंजाब स्टेट राखी बंपर की टिकट खरीदी थी। उसके पास टिकट खरीदने के लिए पैसे नहीं थे, इसलिए 200 रुपये अपने एक दोस्त से उधार लिए। उसने सपने में भी नहीं सोचा था कि उसे पहला इनाम निकल आएगा। अभी भी उसे ऐसा लगा रहा है कि यह कहीं सपना तो नहीं।

लाॅटरी में लग गया 1.5 करोड का इनाम
मनोज ने पंजाब राज्य राखी बंपर 2018 प्रतियोगिता के लिए लॉटरी का टिकट खरीदा था जिसमें उन्हें पहला इनाम मिला है। विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि मनोज बुधवार लॉटरी के डायरेक्टर टीपीएस फुलका से मिले और अपना दावा पेश किया। डायरेक्टर ने उन्हें आश्वासन दिया की पेमेंट जल्द से जल्द किया जाएगा। मनोज बताते हैं कि डाकघर के बीपीएम मीनू कुमार ने उसे बताया कि डेढ़ करोड़ का इनाम निकला है। ये बात सुनकर मैंने कहा, क्यों मजाक करते हैं साहब। ऐसे लॉटरी थोड़ा ही निकलती है। जब मैंने यकीन नहीं किया तो मीनू कुमार ने मेरी टिकट का नंबर लॉटरी के नंबर से मिलाया। उसके बाद मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

चारों बेटियों को खूब पढाऊंगा
यूं तो मनोज ने कभी सोचा नहीं होगा कि एक दिन वह करोड़पति बन जाएंगे लेकिन लॉटरी ने ऐसा संभव कर दिया है। मनोज इस रुपयों से अपने सभी सपने पूरे कर सकते हैं। मनोज ने बताया कि उसे सबसे अधिक चिंता बेटियों की पढ़ाई और उनकी शादी की होती थी। इस पैसे से वह चारों बेटियों को अच्छी शिक्षा दिलाएगा। बेटियां पढ़ेंगी तो आगे भी पढ़ाएंगे। पढ़ाई के बाद धूमधाम से शादी करूंगा।

Tags
Show More

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close