उत्तराखंडखबर इंडिया

बड़ी ख़बर :- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से क्या कहा CM त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने?

मिलिए इन नये ब्राण्ड एम्बेसडरों से, जो देश- दुनिया में करेंगे उत्तराखंड का प्रचार प्रसार

बड़ी ख़बर :- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से क्या कहा CM त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने?

मिलिए इन नये ब्राण्ड एम्बेसडरों से, जो देश- दुनिया में करेंगे उत्तराखंड का प्रचार प्रसार

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि देश-विदेश में रहने वाले उत्तराखंड वासी हमारे ब्राण्ड एम्बेसडर है। उत्तराखण्ड वासी अपनी पहचान बनाते हुए अपने पूर्वजों की समृ़द्ध विरासत को भी देश व दुनिया में फैला रहे है। गुरुवार को चण्डीगढ़ में प्रवासी उत्तराखण्ड वासियों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि आज देश की अहम जिम्मेदारियां उत्तराखण्ड के लोग निभा रहे हैं। तमाम संवेदनशील पदों पर वे अपनी सेवायें दे रहे है।
संसद पर हमले के पश्चात् संसद भवन की सुरक्षा की जिम्मेदारी गढ़वाल राइफल द्वारा निभाई जा रही है। देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, सेना प्रमुख, कोस्टगार्ड चीफ सहित अनेक महत्वपूर्ण पदों पर हमारे लोग जिम्मेदारी के साथ अपनी सेवाऐं दे रहे है। यह हम सबके लिए गौरव बात है। हमारी यह पहचान बनी रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि देश व दुनिया के विभिन्न स्थलों पर जहां भी वे गये हैं, उन्हें हर जगह उत्तराखण्ड के प्रवासियों को अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करते हुए पाया है। देवभूमि की परम्परा के अनुरूप हमारे लोग सम्मान प्राप्त कर रहे है। यह भी हमारे लिये गर्व की बात है। हमारी पहचान अपने कर्तव्यों का निर्वहन ईमानदारी, निष्ठा एवं परिश्रम के साथ निभाने की रही है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि हाल ही में देहरादून में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जनसभा में उन्होंने प्रधानमंत्री को अवगत कराया कि उत्तराखण्ड अकेला ऐसा प्रदेश है जहां के सैनिक को वीरगति प्राप्त होने के बाद भी प्रमोशन मिलते है। वह जवान महावीर चक्र विजेता वीर सैनिक स्व. जसवन्त सिहं है, जो आज सिपाही से प्रमोशन प्राप्त करते हुए मेजर जनरल है। इसके पश्चात् प्रधानमंत्री श्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि उत्तराखण्ड के चार धामों के अलावा पांचवा धाम सैन्य धाम भी है। यह भी हमारे लिए गौरव की बात है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड से प्रधानमंत्री श्री मोदी का विशेष लगाव है। राज्य के सर्वांगीण विकास के लिए उन्होंने हर क्षेत्र में राज्य की मदद की है। आज उत्तराखण्ड में 105 लाख करोड़ की योजनाओं पर कार्य चल रहा है। जिसमें 62 हजार करोड़ की रेल परियोजनायें भी शामिल है। इसके अलावा 12 हजार करोड़ की आॅल वेदर रोड पर तेजी से कार्य हो रहा है। 900 करोड़ की सड़के भारत माला के तहत बन रही है। बड़ी संख्या में पुलों का निर्माण किया जा रहा है। प्रधानमंत्री के विकास की सोच को उत्तराखण्ड में गति मिल रही है। राज्य में 2022 तक सभी पुलों का निर्माण कार्य पूरा हो जायेगा। सेंट्रल रोड फण्ड से 534 करोड़ रुपये प्राप्त हुए है। देहरादून, हरिद्वार व हल्द्वानी में बाई पास बनाये जा रहे है। इससे आवागमन आसान हो जायेगा। प्रदेश में पर्यटन के साथ ही धार्मिक पर्यटनों को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री जी की अपेक्षा के अनुरूप देश व दुनिया के 120 करोड़ हिन्दुओं को उत्तराखण्ड लाने का हमारा प्रयास है। इसके लिए चार धाम हेमकुण्ड साहिब यात्रा मार्गों का सुदृढीकरण किया जा रहा है।
ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल मार्ग 2024 तक बनकर तैयार हो जायेगा। बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री को भी रेल सेवा से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह रेल सेवा पूर्ण रूप से विद्युतीकृत होगी। इसमें एक पेड़ काटने के बदले 10 पेड़ लगाने तथा कृषि भमि अधिग्रहण का मुआवजा 10 गुना प्रदान किया गया है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने चण्डीगढ़ में निवास कर रहे प्रवासियों से प्रधानमंत्री श्री मोदी को पुनः प्रधानमंत्री बनाने में सहयोगी बनने की अपेक्षा की, उन्होंने कहा नये भारत के निर्माण में श्री मोदी के योगदान को देश व दुनिया देख रही है। प्रधानमंत्री ने उत्तराखण्ड को मजबूत बनाया है। हम सबको मादी जी को मजबूत बनाना है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड से हम सभी लोकसभा की सीटों पर विजय प्राप्त करेंगे तथा हमारा वोट प्रतिशत 65 प्रतिशत रहेगा। यह 72 प्रतिशत तक भी जा सकता है। उन्होंने इसका आश्वासन प्रधानमंत्री को भी दिया है।
इस अवसर पर विधायक श्री विनोद कण्डारी, चण्डीगढ़ गढ़वाल सभा के प्रधान श्री विक्रम सिंह बिष्ट , उप प्रधान श्री जगदीश सिंह गुसाई , श्री बृज मोहन , फाइनेंस सेकेट्री विरेन्द्र कण्डारी, सांस्कृतिक सचिव सत्येन्द्र दड़ियाल , वरिष्ठ सुभाष शर्मा , भुपेन्द्र शर्मा , अरविन्द बलूनी, देवेन्द्र रावत , जगदीश असवाल , शक्ति प्रकाश देवसाली , श्रीमती हीरा नेगी (पार्षद), स्वरूप सिंह रावत , सुरेन्द्र सिंह, जय किशन नैथानी, बी.एस बिष्ट सहित बड़ी संख्या मंे उत्तराखण्ड मूल के लोग उपस्थित थे।
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close