उत्तराखंडखबर इंडिया

प्रियंका गांधी ने बिगाड़ा हरीश रावत का खेल..?

प्रियंका गांधी ने बिगाड़ा हरीश रावत का खेल..?

ऐसा क्या हुआ कि एक दम से बदल गए समीकरण?

देहरादून। लोकसभा चुनाव का शंखनाद हो चुका हैं। ऐसे में हर कोई 2019 का रण जितने के लिए हर दांव-पेच पर कार्य कर रहा है। यही कारण है कि यूपी का किला फ़तेह करने के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी हॉस्पिटल में भीम आर्मी के चन्द्रशेखर रावण से मिलने पहुँची। माना जा रहा है कि प्रियंका ने बसपा गठबंधन से कांग्रेस को किनारे करने से दलित वोट में सेंध लगाने के लिए रावण से हाथ मिलाया। हाथ मिलने का असर इतना खतरनाक हुआ कि बसपा सुप्रीमो ने अमेठी और रायबरेली में प्रतियाशी उतारने का संकेत दिए हैं।

ऐसे में माया की नाराजगी कांग्रेस के लिए उत्तराखण्ड में भी भारी पड़ सकती है। उत्तराखण्ड की कई सीटों पर समीकरण बिगड़ सकते हैं। सबसे बड़ा खतरा दलित बाहुल्य हरिद्वार सीट पर कांग्रेस को हो सकता है। हरिद्वार से तैयारी कर रहे हरीश रावत पर मायावती का यह दांव भारी पड़ सकता है।

हरिद्वार सीट में दलित और मुस्लिम वोटरों का काफी प्रभाव है ऐसे में माना जा रहा था यदि कांग्रेस आलाकमान हरीश को हरिद्वार से मैदान में उतारता है तो हरीश बसपा सुप्रीमो से अमेठी और रायबरेली में प्रतियाशी न उतारने वाले वचन को हरिद्वार में भी निभाने के लिए आग्रह कर सकते है। लेकिन प्रियंका गांधी ने जिस तरह माया को नाराज़ किया है। ऐसे में बसपा सुप्रीमो से हरिद्वार में कांग्रेस को अभय दान दे ऐसा बहुत मुश्किल है।

यही कारण है कि बसपा सुप्रीमो हरिद्वार और नैनीताल में कांग्रेस का खेल बिगाड़ने के लिए 6 अप्रैल को जनसभा करने आ रही है।

6 अप्रैल को मायावती रुड़की और रुद्रपुर में रैली को संबोधित करेंगी। बसपा 4 सीटों पर प्रत्याशी उतारने की तैयारी में जुटी है।प्रचार को धार देने के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती उत्तराखंड में दो रैलियां कर रही हैं।6 अप्रैल को मायावती रुड़की में दोपहर 12 बजे चुनावी रैली को संबोधित करेंगी।दोपहर 2 बजे कुमाऊं मंडल के रुद्रपुर में भी उनकी रैली होगी।बसपा प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप बालियान ने पुष्टि की है।

इसलिए हरीश रावत राजनीती के पुराने खिलाड़ी है, और जिस तरह से समीकरण एक दम से बदले हैं, ऐसे में उनको भी सोचना पड़ेगा कि अब हरिद्वार सेफ़ जोन नहीं है। अब ऐसे बदले समीकरणों में हरीश रावत हरिद्वार से लड़ने का रिश्क लेंगे, इस पर सभी की निगाहें हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close