उत्तराखंडखबर इंडिया

उत्तराखंड में कांग्रेस की बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक, मिशन खंडूड़ी फतह?

उत्तराखंड में कांग्रेस की बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक, मिशन खंडूड़ी फतह?

अजय भट्ट के बयान से गरमाई सियासत, अब क्या होगा बीजेपी का प्लान B

सोशल मीडिया में चर्चाओं का बाजार गर्म है कि उत्तराखंड में उत्तराखंड में भाजपा को लग सकता है बड़ा झटका। चर्चाएं गर्म है कि भाजपा के कद्दावर नेता और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल भुवन चंद खंडूड़ी के बेटे कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल। मनीष खंडूड़ी है मेजर जनरल भुवन चंद खंडूरी के बेटे।16 मार्च को राहुल गांधी के देहरादून रैली में शामिल हो सकते हैं मनीष कांग्रेस में।राहुल गांधी के पुराने मित्र बताए जाते हैं मनीष।मयंक खंडूरी ने पिछले 2 दिनों में उत्तराखंड के आंदोलनकारियों और भाजपा के कुछ नेताओं से किया फोन पर संपर्क।खंडूड़ी लाबी के नेताओं से मनीष खंडूड़ी लगातार कर रहे हैं संपर्क।अब तक सतपाल महाराज और हरक सिंह रावत के कांग्रेस में जाने को लेकर चल रही है कयास।मेजर जनरल भुवन चंद खंडूरी के बेटे के कांग्रेस में जाने से भाजपा को लग सकता है बड़ा झटका।भाजपा के आला नेता जनरल खंडूड़ी से मामले में कर रहे हैं संपर्क।

इस खबर में कितनी सच्चाई है अभी कहा नहीं जा सकता लेकिन सोशल मीडिया से लेकर राजनीतिक गलियारे में चर्चाएं आम हैं। थावर चंद गहलोत की आज भाजपा मुख्यालय में भी प्रेस वार्ता के दौरान भी सभी मीडिया कर्मियों का यही सवाल था कि क्या वाकई खंडूड़ी के बेटे कांग्रेस ज्वाइन कर रहे हैं जिसका भाजपा के सभी नेता बचाव करते नजर आए। और ऐसी किसी खबर से किनारा करते हुए गोल मोल बयान देते नजर आए।

लोकसभा चुनाव की तारीखों का एलान होने के बाद से ही राजनीतिक गलियारों में हल चल तेज़ हो गयी है कई उथल पुथल जैसे कयासों के साथ साथ ही कई बड़े नेताओं के पाला बदलने की खबरें तेज़ हो चली हैं. प्रदेश में लोकसभा की महज़ 5 सीटे हैं और दावेदार दो दर्ज़न से ज़्यादा नेता अलग अलग सीटों से अपनी दावेदारी पेश कर चुके हैं।

आगामी 11 अप्रैल को मतदान के पहले चरण में ही उत्तराखंड प्रदेश में ही मतदान होना है चूँकि मतदान में एक माह से भी कम का समय बचा है ऐसे में राजनीतिक अटकलें तेज़ हो गयी हैं एक ही लोकसभा सीट से कई दावेदार दावेदारी करते नज़र आ रहे हैं बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के मुताबिक़ क़रीब दो से ढाई दर्ज़न नेताओं के नाम आ चुके हैं जो कि आज शाम को होने वाली चुनाव संचालन की समिति में मंथन के बाद लोकसभा उम्मीदवारों के नाम का पैनल हाईकमान तक जाना है और आगामी 18 मार्च तक केंद्रीय संचालन समिति ये तय कर लेगी कि पांचों लोकसभा सीटों से बीजेपी किस उम्मीदवार पर विश्वास जताने जा रही है है।

फिलहाल सीटिंग लोकसभा सांसदों और इनकी सीटों की बात करें तो इस तरह के समीकरण बने हुए हैं –

टिहरी लोकसभा से माला राजलक्ष्मी शाह जो कि मौजूदा सांसद हैं अभी भी टिकट के लिए पूरे ज़ोर मार रही हैं और दिल्ली में शीर्ष नेताओं से ताबड़तोड़ बैठके करती नज़र आ रही हैं ऐसा माना जा रहा है कि सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा इस बार माला राज लक्ष्मी का टिकट काटने पर जी जान से लगे हैं साथ ही पौड़ी लोकसभा क्षेत्र से राष्ट्रीय मंत्री तीरथ सिंह रावत मौजूदा सांसद भुवन चंद्र खंडूड़ी करते हुए खुद अपना पॉलिटिकल करियर चमकाना चाह रहे हैं. इसी कड़ी में नैनीताल ,हरिद्वार और अल्मोड़ा लोकसभा सीटों पर भी एक अनार सौ बीमार वाली स्थिति बानी हुई है गहलौत के मुताबिक़ नेता अपनी अपनी दावेदारी को लेकर उनसे मुलाक़ात भी कर हैं इसी कड़ी में कर्नल कोठियाल ने भी उत्तराखण्ड चुनाव प्रभारी और केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलौत से मिलकर अपनी मंशा ज़ाहिर की है। हालंकि पार्टी के शीर्ष नेताओं की माने तो पार्टी उन्हें ही टिकट देगी जो जिताऊ प्रत्याशी होंगे।

चुनाव के इस गर्म माहौल में कई तरह के कयासों की चर्चाये तेज़ है जिनमे एक बड़ी चर्चा ये भी है कि सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी के बेटे मनीष खंडूड़ी कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं और आगामी 16 मार्च को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के शाना-ब-शाना खड़े हो कर चुनावी शंखनाद कर सकते हैं और अपने पिता की ही लोकसभा सीट पौड़ी से अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत कर सकते हैं हालंकि बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने साफ कर दिया है कि हर एक व्यक्ति स्वतंत्र हैं और अगर बीसी खंडूड़ी के बेटे कांग्रेस में जाते भी हैं तो ज़रूरी है कि मनीष खंडूड़ी बीजेपी के सदस्य नहीं हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close