उत्तराखंडखबर इंडिया

हरक सिंह रावत के लैटर बम से उत्तराखंड सचिवालय में हडकंप

इस बार क्यों आया हरक को गुस्सा, आने वाला है बड़ा सियासी तूफान?

हरक सिंह रावत के लैटर बम से उत्तराखंड सचिवालय में हडकंप

इस बार क्यों आया हरक को गुस्सा, आने वाला है बड़ा सियासी तूफान?

देहरादून। उत्तराखंड सरकार में वन मंत्री हरक सिंह रावत एक बार फिर गुस्से में है। वन मंत्री ने अपने गुस्से का इजहार प्रमुख सचिव कार्मिक को लिखे अपने पत्र में किया है। वन विभाग के अफसरों के बिना इजाजत लिये विदेश जाने पर कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने कड़ी नाराजगी जताई है। प्रमुख सचिव कार्मिक सचिव को लेटर जारी करते हुए हरक ने कहा है कि इस तरह से बगैर उनकी अनुमति के किसी भी अधिकारी का विदेश जाना पूरी तरह गलत है। पत्र वन मंत्री ने साफ तौर पर लिखा है कि इससे अनुशासनहीनता हो रही है। उनसे किसी फाइल का अनुमोदन लेने के बजाय सीधे मुख्यमंत्री से अनुमोदन लिया जा रहा है, जो गलत है।

कैबिनेट मंत्री हरक सिहं रावत ने प्रमुख सचिव कार्मिक को लिखा है कि उनके अधीनस्थ विभागों के विभागाध्यक्षों की विदेश यात्रा की अनुमति सबंधी पत्रालियां कार्मिक विभाग के माध्यम से सीधे मुख्यमंत्री को भेजी जा रही है। जिसमें मुख्यमंत्री के अनुमोदन के उपरांत आदेश आदेश निर्गत कर दिये जाते हैं। हरक ने कहा है कि यह स्वस्थ परंपरा नहीं है।

हरक सिंह रावत ने पत्र में लिखा है कि पिछले साल भी वन विभाग के विभागाध्यक्ष जयराज और श्रम आयुक्त आनंद श्रीवास्तव की विदेश यात्रा संबधी पत्रावली भी विदेश यात्रा की जानकारी समाचार पत्रों के माध्यम से प्राप्त हुए।

वन मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड के जंगलों में भीषण आग लगी हुई है ऐसी स्थिति में विभागाध्यक्ष की विदेश यात्रा की पत्रावली उनके विचारार्थ प्रस्तुत नहीं की गई। हरक ने लिखा है कि भविष्य में बिना विभागीय मंत्री की अनुमति के विभाग के विभागाध्यक्ष की विदेश यात्रा की अनुमति निर्गत न की जाये।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close