उत्तराखंडखबर इंडिया

लाइफ केयर पैथोलोजी सेन्टर ने किया स्वास्थ्य और रक्तदान शिविर का आयोजन

रक्तदान और निःशुल्क स्वास्थ्य जांच को स्वास्थ्य शिविर में उमड़े लोग

रक्तदान और निःशुल्क स्वास्थ्य जांच को स्वास्थ्य शिविर में उमड़े लोग

लाइफ केयर पैथोलोजी सेन्टर ने किया स्वास्थ्य और रक्तदान शिविर का आयोजन

लोकप्रिय स्किन विशेषज्ञ डाॅ श्रुति बरनवाल व वरिष्ठ फिजीशियन डाॅ शक्तिबाला दत्ता ने की स्वास्थ्य जांच

देहरादून। राजधानी देहरादून के धर्मपुर विधानसभा के राजीव नगर क्षेत्र अम्बीवाला गुरूद्वारा रोड स्थित लाइफ केयर पैथोलोजी सेन्टर में निःशुल्क स्वास्थ्य और रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। लाइफ केयर पैथोलोजी सेन्टर द्वारा आयोजित रक्तदान और स्वास्थ्य जांच शिविर में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। आलम यह रहा कि शिविर समाप्त होने के बाद भी लोग रक्तदान के लिए पहुंचते रहे। रक्तदान और स्वास्थ्य जांच कराने के लिए पहुंचे लोगों ने लाइफ केयर पैथोलोजी सेन्टर के राजेश रावत को धन्यवाद दिया।
निःशुल्क स्वास्थ्य कैंप का शुभारंभ वरिष्ठ फिजीशियन डाॅ शक्तिबाला दत्ता, व लोकप्रिय स्किन डाॅ श्रुति बरनवाल ने किया। लाइफ केयर पैथोलोजी सेन्टर द्वारा आयोजित शिविर में बड़ी संख्या में मरीजों ने अपने स्वास्थ्य की जांच कराते हुए चिकित्सकों से दवाएं ली। इस दौरान लोगों ने शुगर जांच, ब्लड प्रेशर, हीमोग्लोबिन, रक्त जांच समेत अन्य जांच कराते हुए फिजीशियन चिकित्सक डाॅ शक्तिबाला दत्ता, व डाॅ श्रुति बरनवाल से परामर्श लेते हुए निशुल्क दवाएं प्राप्त की। लोगों ने मुहिम की सराहना करते हुए कहा कि इससे आदमी अपने स्वास्थ्य की जांच कराने और लोगों की मदद के लिए प्रेरित होता है। साथ ही कैंपों में बिना किसी आर्थिक भेदभाव के लोगों का उपचार किया जाता है। शिविर में लोगों को जागरूक किया और लोगों को तनावमुक्त रहने के बारे में बताया।
महिलाओं ने लिया बढ़ चढ़कर हिस्सा
रक्तदान शिविर में महिलाओं ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कैंप में महिलाओं ने रक्तदान करते हुए लाइफ केयर पैथोलोजी सेन्टर के राजेश रावत की सराहना की और कहा कि रक्तदान से किसी व्यक्ति को नई जिंदगी मिलती है। दोपहर दो बजे के बाद भी लोग रक्तदान और स्वास्थ्य जांच के लिए पहुंचते रहे। समयावधि के बाद लोगों ने मौके पर पहुंचकर रक्तदान किया। इनमें से 30 से अधिक लोगों ने रक्तदान को महादान मानते हुए एक-एक यूनिट रक्त दान किया। वहीं अस्वस्थ होने के कारण कई लोग रक्तदान नहीं कर सके।
Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close