उत्तराखंडखबर इंडिया

बड़ी खबर :- हरीश रावत मुर्दाबाद नारे पर कांग्रेस के दो गुटों में जमकर हाथापाई

कांग्रेस के अंदर स्थानीय और बाहरी प्रत्याशी की मांग बनी जंग का अखाड़ा

बड़ी खबर :- हरीश रावत मुर्दाबाद नारे पर कांग्रेस के दो गुटों में जमकर हाथापाई

कांग्रेस के अंदर स्थानीय और बाहरी प्रत्याशी की मांग बनी जंग का अखाड़ा

रुड़की, हरिद्वार।  उत्तराखंड की पांचों लोकसभा सीटों पर कांग्रेस योग्य प्रत्याशियों की खोज में जुटी हुई है। जिसके लिये कांग्रेस के पर्यवेक्षक हर लोकसभा सीट के क्षेत्रों में जाकर कार्यकर्ताओं से उनकी राय ले रहे हैं। कांग्रेस के कार्यकर्ता भी खुलकर अपनी राय दे रहे हैं। ऐसी ही एक बैठक हरिद्वार लोकसभा सीट को लेकर नगर कांग्रेस कमेटी की ओर से सिविल लाइंस स्थित जिला पंचायत के डाक बंगले पर कार्यकर्ताओं की राय जानने को एक बुलाई गई। पूर्व सांसद एवं लोकसभा हरिद्वार के पर्यवेक्षक महेंद्र पाल सिंह ने कार्यकर्ताओं की राय जानी, लेकिन प्रत्याशियों के चयन को लेकर बुलाई गई बैठक जंग का अखाड़ा बन गई। 

रायशुमारी के लिए नेताओं को कमरे के अंदर बुलाया जा रहा था। इस दौरान कमरे के एक ओर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के समर्थक तो दूसरी ओर पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. संजय पालीवाल के समर्थक खड़े हो गए। उन्होंने अपने-अपने नेताओं के समर्थन में नारेबाजी शुरू कर दी। इसी बीच किसी ने हरीश रावत मुर्दाबाद कह दिया। इसके बाद दोनों गुट एक-दूसरे पर टूट पड़े और जमकर हाथापाई हुई। इससे अफरातफरी मच गई।

इस पर पूर्व महापौर यशपाल राणा, डॉ. संजय पालीवाल, पूर्व राज्यमंत्री मनोहर लाल शर्मा समेत वरिष्ठ नेताओं ने उत्तेजित कार्यकर्ताओं को शांत कराया। दूसरी ओर कांग्रेस के पर्यवेक्षक महेंद्र पाल सिंह ने कहा कि मारपीट नहीं हुई है। जोश में कार्यकर्ता नारेबाजी कर रहे थे। जिला पंचायत के डाकबंगले में आयोजित बैठक में 10 और लोगों ने दावेदारी पेश की है। कांग्रेस के पर्यवेक्षक महेन्द्र पाल सिंह ने कहा कि पार्टी टिकट किसी को भी दें, सभी को मिलकर कांग्रेस को जीतना है। पार्टी को एकजुट होकर मजबूत करना है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close