उत्तराखंडखबर इंडिया

पहाड़ के विकास को पहाड़ सी सोच रखने वाला राजनेता

इनकी कार्यशैली का आम से लेकर खास हर कोई है मुरीद

पहाड़ के विकास को पहाड़ सी सोच रखने वाला राजनेता

इनकी कार्यशैली का आम से लेकर खास हर कोई है मुरीद

कोटद्वार, रामनगर और उत्तरकाशी में बनेंगे आइसीयू सेंटर

देहरादून। पहाड़ के विकास को पहाड़ सेी सोच रखने वाला राजनेता। जी हां आज हम बात एक ऐसे युवा राजनेता की कर रहें हैं जिनकी सोच राजनीति के दिग्गजों को भी सोचने पर मजबूर कर दे रही है। आज उत्तराखंड का हर आम से लेकर खास शख्स इनकी कार्यशैली का मुरीद बन बैठा है। हम बात कर रहें हैं उत्तराखंड से राज्यसभा सदस्य और भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी की। राज्यसभा सांसद बनने के बाद से अभी तक बेहद ही कम समय में अनिल बलूनी ने भले ही गिनती के फैसले लिए हों लेकिन दूरदर्शिता के साथ लिए गए उनके सभी फैसलों और घोषणाओं पर हर कोई उनकी वाहवाही करने को मजबूर है।

सोशल मीडिया से लेकर आम बातचीत में जनता उनकी जमकर तारीफ कर रही है। सोशल मीडिया में लोग खुलकर लिख रहे हैं जो सोच और काम राज्य सरकार को करने चाहिए थे वह अनिल बलूनी कर रहे हैं। कई लोग तो यहां तक भी लिख रहे हैं कि काश 18 साल पहले बलूनी के हाथ में राज्य की कमान होती तो वह उत्तराखंड के लिए परमार साबित होते। तो वहीं कुछ यह भी लिख रहे हैं कि उत्तराखंड की राजनीति का भविष्य सुरक्षित हाथों में है। लोग लिखने और बोलने को आजाद हैं पर जब लोग राजनेताओं की कार्यशैली पर पाॅजिटिब टिप्पणी करें तो यह समझना काफी है कि उनके फैसलों से जनता खुश है।

कोटद्वार, रामनगर और उत्तरकाशी में बनेंगे आइसीयू सेंटर
उत्तराखंड से राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी ने कोटद्वार, रामनगर और उत्तरकाशी का चयन आइसीयू सेंटर बनाने के लिए किया है। इनका निर्माण इसी वर्ष उनकी सांसद निधि से किया जाएगा। हाल ही में धुमाकोट बस दुर्घटना के बाद राज्यसभा सदस्य बलूनी ने सांसद निधि से प्रदेश में प्रतिवर्ष दो से तीन आइसीयू स्थापित करने की बात कही थी। रविवार को एक बयान में राज्यसभा सदस्य बलूनी ने कहा कि इस संबंध में उन्होंने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से चर्चा की। मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है कि इन केंद्रों के संचालन के लिए पर्याप्त चिकित्सक एवं ट्रेंड स्टाफ उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य के दुर्गम क्षेत्रों में गंभीर रोगियों को हायर सेंटर स्थानांतरित करने में दिक्कतें आती हैं।

गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों को मिलेगी राहत
विशेषकर गंभीर रूप से घायल और बीमार लोगों को लेकर समस्या रहती है। अस्पतालों में आइसीयू की सुविधा न होने से बीमार व घायलों का जीवन संकट में पड़ जाता है। उन्होंने कहा कि इन तीनों आइसीयू सेंटर को आधुनिक तकनीक और बेहतरीन चिकित्सकीय उपकरणों से युक्त किया जाएगा। इन सभी सेंटरों में चार से पांच बेड और कम से कम दो वेंटिलेंटर रखे जाएंगे।

जल्द शुरू होगा आइसीयू सेंटरों का निमार्ण
कोटद्वार व रामनगर के अस्पताल का विस्तृत प्रस्ताव भी प्राप्त कर लिया गया है। जल्द ही इन केंद्रों का निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह स्वयं इनकी मॉनिटरिंग करेंगे ताकि ये शीघ्रातिशीघ्र शुरू हो सकें। आगामी वर्षो में अन्य दूरस्थ नगरों का भी चयन किया जाएगा। बलूनी ने कहा कि इन तीनों केंद्रों का चयन बहुत सोच विचार कर किया गया है। इन केंद्रों से स्थानीय आबादी के साथ ही आसपास के क्षेत्रों के लोग बेहद सुगमता से इन केंद्रों में आ सकते हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही इसके लिए सांसद निधि की राशि भी जारी कर दी जाएगी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close